हरीश रावत को सीएम त्रिवेंद्र के आवास पर जाने से रोका, सड़क पर बैठे हरीश रावत।

देहरादून: कांग्रेस ने तेल की बढ़ती कीमतों के बीच सोमवार को केंद्र सरकार और राज्य सरकार को घेरने में कोई कसर नहीं छोड़ी। उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत क्वारंटीन अवधि पूरी होने पर घर से बाहर निकले तो बैलगाड़ी पर सवार होकर तेल की बढ़ती कीमतों का विरोध जताते हुए पूजा अर्चना करने पहुंचे।

यह भी पड़े:-  दवा कंपनी में गैस के रिसाव से 2 लोगो की मौत, चार अस्पताल में भर्ती।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के मुताबिक पेट्रोल और डीजल की कीमत बढ़ने के विरोध मेें सोमवार को पूरे प्रदेश में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने धरना देकर विरोध जताया। दूसरी ओर, कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत ने अलग ही अंदाज में विरोध जताया।

यह भी पड़े:- कोरोना वायरस अपडेट्स: देशभर में संक्रमितों की संख्या 5,67,536 के पार, 16,904 की मौत!

मिली खबर के मुताबिक, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को मुख्यमंत्री आवास के बाहर सांकेतिक धरना देने से पूर्व हाथीबड़कला बैरिकेडिंग पर पुलिस ने रोक दिया। हरीश रावत वहीं पर धरना पर बैठ गए। इसी दौरान पुलिस ने उन्‍हें हाथीबड़कला बैरिकेडिंग पर रोक दिया, जिस पर वह वहीं धरने पर बैठ गए। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने प्रदेश सरकार पर तानाशाही रवैया अपनाने का आरोप लगाया। उन्होंने सरकार को चेतावनी दी कि या तो उन्हें यहां से सीएम आवास जाने दिया जाए अन्यथा वह यहीं पर अनशन शुरू कर देंगे। वह अपने समर्थकों के धरना पर बैठ गए।

 

यह भी पड़े:- जानलेवा बन गया शादी समारोह, 95 गेस्ट पाए गए कोरोना पॉजिटिव, दुल्हे की मौत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: