सरकार का बड़ा फैसला, ड्राइविंग लाइसेंस से जुड़े नियमो में परिवर्तन।

विस्तार:

आज कल ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त करना बहुत सरल हो गया है। सड़क परिवहन व्  राजमार्ग मंत्रालय ने ड्राइविंग लाइसेंस जारी करने के नियमों में बदलाव करते हुए, इसे आसान बना दिया है। नए नियमो के अनुसार, निजी वाहन निर्माणकर्ताओं, ऑटोमोबाइल एसोसिएशन संगठनों या कानूनी निजी फर्मों सहित विभिन्न संस्थाओं को मान्यता प्राप्त ड्राइवर अभ्यास केंद्र चलाने की अनुमित दी गई है। फिर ये निर्धारित अभ्यास पाठ्यक्रम पूरा करने वाले सभी लोगों को ड्राइविंग लाइसेंस जारी करते है। सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय ने इस मामले में विज्ञापन जारी कर दी है।

मंत्रालय ने दो अगस्त, 2021 के जारी बयान में कहा, वैध संस्थाएं जैसे कंपनियां, गैर सरकारी संगठन, निजी प्रतिष्ठान/ऑटोमोबाइल एसोसिएशन वाहन निर्माता चालक प्रशिक्षण केंद्र की मान्यता के लिए आवेदन कर सकेंगे।"

मंत्रालय द्वारा सूचित तैयार की गई,की ये संस्थाएं आरटीओ द्वारा ड्राइविंग लाइसेंस जारी करने की मौजूदा सुविधा के अलावा ड्राइविंग लाइसेंस जारी करने में सक्षम होंगी। मान्यता के लिए आवेदन करने के पात्र होंगे।

 

परिवहन मंत्रालय के दिशानिर्देशों में कहा गया है।  इसके लिए आवेदन करने वाली वैध संस्थाओं के पास केंद्रीय मोटर वाहन नियम नियम, 1989 के तहत निर्धारित भूमि पर आवश्यक बुनियादी संरचना या सुविधाएं होनी चाहिए। उनके उपरांत स्थापना के बाद एक साफ रिकॉर्ड भी होना चाहिए। दिशानिर्देश के अनुशार "आवेदक को राज्य / केंद्रशासित प्रदेश में केंद्र चलाने के लिए पर्याप्त संसाधनों का प्रबंधन करने के लिए अपनी वित्तीय क्षमता दिखानी होगी।
 

 

इसके उपरांत, दिशानिर्देश में कहा गया कि मान्यता प्राप्त केंद्रों को ऑनलाइन द्वारा बनाना होगा, जिसमें प्रशिक्षण कैलेंडर, ट्रेनिंक कोर्स संरचना प्रशिक्षण घंटे और कार्य दिवसों की जानकारी देनी होगी। इस ऑनलाइन द्वारा में प्रशिक्षण लोगों की लिस्ट, प्रशिक्षकों का विस्तार, प्रशिक्षण के नतीजे, उपलब्ध सुविधाएं, छुट्टियों की सूची, ट्रेनिंग फीस, जैसी कई जानकारी भी होनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: