दुबई और यू.के के डॉक्टर हो गए थे फ़ैल, फिर भारतीय डॉक्टरों ने कर दिखाया ये करिश्मा

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सर गंगा राम अस्पताल के डॉक्टरों को बड़ी कामयाबी मिली है और उन्होंने 30 साल की महिला के जबड़े की हड्डी और खोपड़ी की हड्डी को ऑपरेशन से अलग किया है, जो जन्म से जुड़ी थीं. इस कारण उनका मुंह खुल नहीं पाता था. महिला का डेढ़ महीने पहले (फरवरी 2021) आस्था मोंगिया को सर गंगा राम अस्पताल के प्लास्टिक सर्जरी विभाग में लाया गया था, जो दिल्ली के पंजाब नेशनल बैंक में सीनियर मैनेजर के पद पर कार्यस्थ हैं. ऑपरेशन के बाद आस्था पूरी तरह ठीक हैं और उनका मुंह करीब 3 सेंटीमीटर खुलने लगा है.

जन्म से जुड़ी थी जबड़े और मुंह की हड्डी

आस्था मोंगिया जन्म से पीड़ित थीं और उसके जबड़े की हड्डी मुंह के दोनों तरफ से खोपड़ी की हड्डी से जुड़ी हुई थी. इस वजह से वह अपना मुंह नहीं खोल सकती थी. यहां तक की वह अपनी ऊंगली से अपनी जीभ को छू तक नहीं सकती थी और ना ही कुछ खा सकती थी. वह तरल पदार्थ पर जिंदा थी. मुंह न खुलने से दांतों में इंफेक्शन हो गया और अब कुछ ही दांत बचे हैं. महिला एक आंख से देख भी नहीं सकती हैं.

यूके-दुबई के अस्पतालों ने कर दिया था सर्जरी से मना

सबसे बड़ी दिक्कत यह थी कि महिला का पूरा चेहरा ट्यूमर की खून भरी नसों से भरा हुआ था. इसकी वजह से कोई भी अस्पताल सर्जरी के लिए तैयार नहीं था. परिवार ने भारत के अलावा यूके और दुबई के बड़े अस्पतालों में महिला को दिखाया था, लेकिन सभी ने सर्जरी के लिए मना कर दिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: