देहरादून: गांधी पार्क के बाहर धरने पर बैठ पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, किसान बिलों के विरोध में 2घंटे का रखा मौन व्रत !

किसानों को लेकर पास हुए बिलों का विरोध देश में बढ़ता ही जा रहा है. इसी सिलसिले में आज उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत देहरादून के गांधी पार्क के बाहर धरने पर बैठ गए. उन्होंने संसद की ओर से पारित किसान बिलों के विरोध में दो घंटे का मौन व्रत भी रखा.

हरीश रावत का कहना है कि इन अध्यादेशों से किसानों को मिलने वाला न्यूनतम मूल्य समाप्त हो जाएगा. सबके हितों के लिए बनी सस्ते गल्ले की प्रणालि समाप्त हो जाएगी. इसके साथ ही कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग (ठेके पर कृषि) के जरिए किसानों की भूमि बड़े-बड़े पूंजीपतियों के हाथों में चली जाएगी. इससे किसान अपनी ही ज़मीन पर मजदूर बनकर रह जायेगा.

 

हरीश रावत ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि सरकार बहुमत की वजह से किसानों का गला घोंटने का काम कर रही है. किसानों के लिए किये गये बड़े-बड़े वादे धरातल पर फेल हैं. हरीश रावत ने ये भी कहा कि पंजाब में कांग्रेस ने इन अध्यादेशों का विरोध किया है. पंजाब कांग्रेस 23 सितम्बर को दिल्ली में इसको लेकर सरकार के खिलाफ मार्च निकालेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: