Day: October 17, 2020

पर्यटकों के मन को भा जाता हैं कल्याणिका डोल आश्रम

चंदवंश के राजा बालो कल्याणचंद ने आलमनगर के नाम से इस नगर स्थापना की थी. स्वतंत्रता की लड़ाई सेलेकर शिक्षा, कला एवं संस्कृति के विकास में अल्मोड़ा का विशेष स्थान रहा है. कुमाऊँनी संस्कृति की असली छाप अल्मोड़ा में ही मिलती है. इसीलिए इसे सांस्कृतिक नगरी भी कहा जाता है. यहाँ के प्रमुख पर्यटन स्थलों में रानीखेत, चितई मंदिर, जागेश्वर धाम, कसार देवी, सोमेश्वर घाटी, द्वाराहाट, मानिला, बिनसर महादेव, चौबटिया गार्डन, स्याही देवी, चौखुटिया, डोल आश्रम, बिनसर जंगल, कटारमल सूर्य मंदिर और एड़द्यो मंदिर प्रमुख हैं.श्री कल्याणिका हिमालय देव चरणम् एक परम योगी कल्याणदासजी की आध्यात्मिक दृष्टि है जो अत्यधिक…